The news is by your side.

क्यों पुरुषों के लिए खास है, International Men’s Day

0 135

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस है यह दिन पुरुषों के लिए बहुत ही खास माना जाता है। हर साल 19 नवंबर को ही पुरुष दिवस मनाया जाता है। भारत हमेशा से ही एक पुरुष प्रधान देश माना गया है। लेकिन इस महिला पुरुष के बीच के अंतर को कम करने के लिए और नारी सशक्तिकरण को बढ़ाने के लिए हर साल 8 मार्च के दिन को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाता है। महिला दिवस के बारे में तो सभी को पता है मगर पुरुष दिवस के बारे में शायद बहुत कम ही लोग जानते है। हमे ये पता होना चाहिए कि पुरुष दिवस क्यों मानते हैं ? और इसकी शुरुआत कैसे हुई ?

सबसे पहले 7 फरवरी 1992 को हुई थी अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की शुरुआत

कहते हैं कि अमेरिका के थॉमस योस्टर जो कि मिसौर यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर थे उनकी कोशिशों के बाद पहली बार 7 फरवरी 1992 के दिन अमेरिका, कनाडा और यूरोप के कुछ देशों ने पहली बार अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस का जश्न मनाया था, लेकिन 1995 में कई देशों में पुरुष दिवस मनाना बंद कर दिया गया था।

इस दिवस को साल 2007 में पहली बार भारत में मनाया गया

पुरुष दिवस भारत में पहली बार 2007 में मनाया गया था। इसे मानाने वाली एक संस्था थी जिसका नाम है ‘सेव इंडियन फैमिली’. यह पुरुषो के अधिकार के लिए लड़ने वाली संस्था थी। जिसके बाद से ही ‘ऑल इंडिया मेन्स वेल्फेयर एसोसिएशन’ ने भारत सरकार से यह मांग की कि महिला विकास मंत्रालय की तरह पुरुष विकास मंत्रालय भी बनाया जाए.

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.